Romantic Shayari

Romantic Shayari in Hindi For Lover with Image - Classy Shayari.

देखी जो सूरत आपकी ये दिल बेचारा मचल गया रखना हिफ़ाज़त से अपनी अदा को अदा पे आपकी ये दिल घायल हो गया

एक प्यारी सी कली थी जो फूल बन गयी एक नन्ही सी मुस्कान थी जो हसी बन गयी ये छोटी छोटी सी मुलाकात अब तो प्यार बन गयी और आपका हर पल साथ तो जैसे बहार बन गयी .

हर इनायत हर खुशी आपकी हो, महक उठे वो महफ़िल जिसमे हँसी आपकी हो, कोई भी लम्हा आप उदास ना हो, खुदा करे ज़न्नत जैसी ज़िंदगी आपकी हो.

बनके अजनबी मिले थे ज़िंदगी के सफ़र में, इन यादों के लम्हों को मिटाएँगे नही, अगर याद रखना फ़ितरत है आपकी, तो वादा है हम भी आपको भुलाएँगे नही.

मुझे किसी से मुहब्बत नही सिवा तेरे मुझे किसी की ज़रूरत नही सिवा तेरे, मेरी नज़र को थी तलाश जिसकी बरसो से किसी के पास वो सूरत नही सिवा तेरे ! जो मेरे दिल, मेरी ज़िंदगी से खेल सके किसी को इतनी इजाज़त नही सिवा तेरे..

आप खुद नही जानती आप कितनी प्यारी हो जान तो हमारी पर जान से प्यारी हो दूरियों क होने से कोई फ़र्क नही पड़ता आप कल भी हमारी थी आज भी हमारी हो !!

हर शाम से तेरा इज़हार किया करते है, हर ख्वाब मे तेरा दीदार किया करते है, दीवाने ही तो है हम तेरे, जो हर वक़्त तेरे मिलने का इंतज़ार किया करते है...

साथ अगर दोगे मुस्कराएँगे ज़रूर, प्यार अगर दिल से करोगे तो निभाएँगे ज़रूर, राह मे कितने काँटे क्यू ना हो , आवाज़ अगर दिल से दोगे तो आएँगे ज़रूर

कोई पल ऐसा नही जिसमे आपकी याद ना आए, कोई दिन ऐसा नही जिसमे हम आपको ना बुलाएँ, वो हमारा सबसे अच्छा दिन होगा, जिसमे आप हमसे मिलने को आए.

और कुछ ना होगा मुस्कुराने से दो पल को तबीयत बहाल जाएगी तुम बैठो पहलू मे आ के मेरे मौसम की रंगत बदल जाएगी.

जानते हो फिर भी अंजान बनते हो, इस तरहा हमें परेशान करते हो, पूछते हो तुम्हे क्या पसंद है, जवाब खुद हो फिर भी सवाल करते हो..

यादों की नज़रें तुम पे हैं, फूलों की महेक तुमसे हैं, चाहत की साँस तेरे लिए, हरपल की शायरी भी तेरे लिए,

मेरी हर एक धड़कन आप के लिए है मेरी हर एक मुस्कुराहट आप के लिए है आप के अदा मेरे दिलको चुराने के लिए है अब तो मेरी ये ज़िंदगी भी आप के लिए है

मुस्कान बन जाता है कोई, दिल की धड़कन बन जाता है कोई, कैसे जिए एक पल भी उन के बिन, जब ज़िंदगी जीने की वजह बन जाता है कोई.

वो हसना, वो खिलखिलाना ,वो मुस्कुराना तुम्हारा वो बातें, वो रातें ,वो मुलाक़ाते तुमसे मेरी

याद है मुझे वो पहली मुलाकात, जैसे हो बरसात की कोई रात, वो तेरा धीरे से मुस्कुराना, मुझे देख के यूँ नज़रें चुराना,