Pyar Bhari Shayari

Top Pyar Bhari Shayari In Hindi.

Buddy Talk APP

साँसों पर मेरी अपना नाम लिख जाओ, लाबो पर एक बार अपने मेरा नाम लाओ, दिल में जो छुपाए रखे हो कब से , वो इज़हार ए मोहबत सामने लाओ.

नाकाम मोहब्बत की कोई दास्तान लिखूं, मैं शायद इसी लिए मेरे करीब तेरा आना था, वास्ता दिया था तू ने अपने ही रिश्तों का मगर शायद तुझे ही मुझसे दूर जाना था.

मुझे क़बूल है, हर दर्द, हर तकलीफ़ तेरी चाहत में सिर्फ़ इतना बता दो, किया तुम्हें मेरी मोहब्बत क़बूल है

मोहब्बत भी होने का सबूत मांगती है मोहब्बत है तो है,चाहे कुछ भी ज़माना कर ले

हमने आज खुद को आज़माने की कोशिश की, मोहब्बत से दिल को बचाने की कोशिश की.

आपकी मोहब्बत ने कुछ इस तरहा हम पर असर कर दिया रोका बहुत खुद को, दीवाना हमे मगर कर दिया .

वफ़ा इसको नही कहते वफ़ा कुछ ओर होती है, मोहब्बत करने वालो की अदा कुछ ओर होती है,

मैं शायर था, अब आशिक़ कहलाने लगा उनकी मोहब्बत कुछ ऐसा हम पर असर कर गयी.

मोहब्बत है जिस से उसे पाने की काबिलियत नही मुझमे, ऐसा लोगों से कहते सुना है मैने उसे.

नशा मोहब्बत का असर कर रहा है, अब धीरे धीरे जादू इसका अब तो मेरे धड़कनो में बेहिसाब रहने दो.

दूं इतनी मोहब्बत, की कुछ ना फिर बाकी रहे मेरे ही दिल में तुम, देख सारा शहर लेना गहरी मेरी आँखों को मोहब्बत कितनी है तुमसे देखने के लिए इसी में नंगे पाओं उतार लेना.

कहीं इज़हारे-मोहब्बत सुनके खफा ना हो जाए वो ये सोचके लगता है खामोश रहना ही अच्छा है.

जितनी शिद्दत से चाहे उनको, और उन्हे अहेसास भी ना हो मोहब्बत का हम अपना इज़हार-ए-बयान ना ही करे तो अच्छा है.

तुझे नाज़ अगर अपने हुस्न पर मुझे फक्र वफ़ा पर हुस्न वाले, तो कई हैं मेरी वफ़ा पर फ़लसफ़ान होगा, तेरी मुहब्बत का मारा हूँ इस बात से नहीं इनक़ार चाहने वाले तो कई मिलेंगे जान देने वाला ना होगा.

अपनी आँखों को बनकर ये ज़ुबान, कितने अफ़साने सुना लेते है. जिनको जीना है मोहब्बत के लिए, अपनी हस्ती को मिटा लेते है.

कश्ती मोहब्बत की ले के निकले थे तूफ़ानो में, हमारे यार ने ही हमारी कश्ती को डूबो दिया.