Mohabbat Shayari

Top Mohabbat Shayari In Hindi.

यादो मे आपकी साँसे रहेने का एहसास होता हे, तन्हा भरे दिल मे दर्द बनके तू पास होता हे, आपके बिन जीने की सोच भी नही सकते, इस वजाहा से तो हर दिन मोहब्बत का एहसास होता हे.

मोहब्बत जीवन का सबसे सुनहरा सवेरा हे, ये सारे रिश्तो मे भी सबसे अलबेला हे, ये जिसने पाया वो तन्हाई मे भी खुश हे, पर जिनको नही मिलता वो दुनिया की भीड़ मे भी अकेला हे .

जिस गल की हसरत थी ज़िंदगी मे हमे, शायद वो गल किसी गुल्लिस्ता मे खिला हे नही, जिस मोहब्बत की आरज़ू थी हमे ज़िंदगी मे, ऐसे मोहब्बत कभी आज तक हमे मिली हे नही.

तलाश कर देखो मेरी मोहब्बत को अपने दिल में, दर्द हो तो साँझ लेना के मोहब्बत अब भी बाकी है.

है इतनी मोहब्बत मुझे तुमसे की, अल्फाज़ो मे भी तुम इसे पा ना पाओगे, अगर ना हो यकीन तो आज़मा के देखो, तुम खुद को भी इतना चाह ना पाओगे, मई वो साया हू तेरी सांसो से ज्यूरा, एक पल भी इसे खुद से जुदा ना पाओगे, मेरा रब गवाह हे मेरी मोहब्बत का, चाहकर भी तुम मुजको भुला ना पाओगे.

मैने कब दर्द की ज़ख़्मो से शिकायत की है, हन मेरा जुर्म है की मैने मोहब्बत की है, आज फिर देखा है उसे महफ़िल में पठार बनकर, मैने आँखो से नही दिल से बगावत की है, उसको भूल जाने की ग़लती भी नही कर सकते टूट कर की है तो सिर्फ़ उसी से मोहब्बत की है.

मैं मोहब्बत हूँ मोहब्बत करके देख मैं मोहब्बत ना दूं तो कहना, मैं मुस्कुराहत हूँ मुझे हंसा कर देख ना साजून तेरे होंठो पेर तो कहना, मैं खुश्बू हू मुझे महसूस करके देख ना महकु तेरी ज़िंदगी मैं तो कहना,मैं दिल हूँ मुझे सुन कर देख, ना धड़कन तेरे दिल मैं तो कहना, मैं फूल हूँ मुझे लगा कर देख, ना महकु दिन रात तो कहना, मैं मोहब्बत हूँ मुझे अपना करके देख ना बनू मैं तेरा तो कहना.

खुदा जाने मोहब्बत में क्या दस्तूर है, हमने जिसको चाहा वो हुमसे दूर है हुस्न वालो में मोहब्बत की कमी होती है या फिर चाहने वालो की तकदीर बुरी होती है.

चाहत की कोई हद नहीँ होती, सारी उम्र भी बीत जाए, मोहब्बत कभी कम नहीँ होती.

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा, तू ज़िंदगी का एक एहम हिस्सा है मेरा, मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ़ज़ो की नहीं है, तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा.

कर मेरी मोहब्बत का ऐतबार समंदर मै वो कश्ती हु जिसे कोई डूबा नही सकता .

उसका वादा भी अजीब था, कि जिन्दगी भर साथ निभायेंगे, मैंने भी ये नहीं पुछा की मोहब्बत के साथ या यादों के साथ.

मैने तुमसे मोहब्बत की है, अब ये गुनाह है तो है, तुझ बिन जीने की आदत नही मुझे, अब ये ख़ता है तो है, तुम ना मिले तो शायद मैं जी ना सकूँ, अब ये बेवक़ूफी है तोहै, मैं जनता हूँ की तुम्हे नफ़रत है मुझ से, पर मुझे तुझ से मोहब्बत है तो है.

दिल की प्यारी धड़कन को धड़का गया कोई, मेरे हसीन सपनो को महका गया कोई, हम तो अनजाने रास्तो पे चलते चले थे, पर अचानक हे मोहब्बत का मतलब सीखा गया कोई.

जानते हो मोहब्बत किसे कहते हैं, किसी को सोचना, सोच कर मुस्कुराना, फिर आँसू बहा कर सो जाना, उसे मोहब्बत कहते हैं.

खुश्बू की तरह मेरी हर सांस मैं, प्यार अपना बसने का वादा करो, रंग जीतने तुम्हारी मोहब्बत के हैं, मेरे दिल मे सजाने का वादा करो.