हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

प्रेम परिचय को पहचान बना देता है, प्रेम रेगिस्तान को गुलिस्ताँ बना देता है, मैं अपनी आप-बीती कहता हूँ गैरों की नहीं, प्रेम इंसान को भगवान बना देता है.

Hindi Shayari