हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

शिकवे भी हज़ारों है शिकायत भी बहुत है, इस दिल को मगर उससे मोहब्बत भी बहुत है. आ जाता है मिलने वो तसवउर में हमारे, एक शख्स की इतनी सी इनायत भी बहुत है, यह भी है तमन्ना के उसे दिल से भुला दें, इस दिल को मगर उसकी ज़रूरत भी बहुत है. देखें तो ज़रा पी के हूँ ज़हर-ए-मोहब्बत, सुनते हैं के इस ज़हर में लज़्ज़त भी बहुत है.

Hindi Shayari

Tu Paas Nahin To Dil Beqarar Apna... Love Hindi Shayari

Tu Paas Nahin To Dil Beqarar Apna Hai, Ke Hum Ko Tera Nahin Intezar Apna Hai, Mile Koi Bhi, Mein Tera Zikar Ched Deta Hoon, Ke Jaise Sara Jahan Raazdar Apna Hai.

Photo Shayari in Hindi: Download and Share Love Shayari Image
Love Shayari
Love Shayari
Download Love Shayari Image

Topics You May Like

beqarar intezar raazdar