हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

मैने कब दर्द की ज़ख़्मो से शिकायत की है, हन मेरा जुर्म है की मैने मोहब्बत की है, आज फिर देखा है उसे महफ़िल में पठार बनकर, मैने आँखो से नही दिल से बगावत की है, उसको भूल जाने की ग़लती भी नही कर सकते टूट कर की है तो सिर्फ़ उसी से मोहब्बत की है.

Hindi Shayari

Kaun kehta hai ishq me bas ikraar... Love Hindi Shayari

Kaun kehta hai ishq me bas ikraar hota hai, Kaun kehta hai ishq me bas inkaar hota hai, Tanhai ko tum bebasi ka naam na do, Kyunki ishq ka doosra naam hi intezar hota hai.

Photo Shayari in Hindi: Download and Share Love Shayari Image
Love Shayari
Love Shayari
Download Love Shayari Image