हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

Dosti woh nahi jis mein jeet ya haar ho, Dosti koi cheez nahi jo har waqt taiyaar ho, Dosti to woh hai jis me kisi k aane ki umeed na ho, Lekin phir bhi Uska har waqt Intezaar ho.

Hindi Shayari

दिल को उसकी हसरत से खफ्फा कैसे करू,... Mohabbat Hindi Shayari

दिल को उसकी हसरत से खफ्फा कैसे करू, अपने रब को भूल जाने की ख़ाता कैसे करू, लहू बनकर राग राग मे बस गया है वो लहू को इस जिस्म से ज़ुदा कैसे करू.

Topics You May Like

Best Mohabbat Shayari