हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

Kabhi Ibadat ki thi hamne bhi kisi chehre ki, Waqt gujra aur aaj chehre se naqab uter gya, Masumiat ki duhai dete the hum kabhi jiski, Aaj uska khayal bhi dil se uter gya.

Hindi Shayari

जब खामोश आँखो से बात होती है ऐसे ही... Mohabbat Hindi Shayari

जब खामोश आँखो से बात होती है ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है, तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं पता नही कब दिन और कब रात होती है.

Topics You May Like

Best Mohabbat Shayari