हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

अपनी ज़ुल्फ़ों को सितारों के हवाले कर दो शहर-ए-गुल बादागुसारों के हवाले कर दो तल्ख़ि-ए-होश हो या मस्ती-ए-इदराक-ए-जुनूँ आज हर चीज़ बहारों के हवाले कर दो मुझ को यारो न करो रहनुमाओं के सुपुर्द मुझ को तुम रहगुज़ारों के हवाले कर दो जागने वालों का तूफ़ाँ से कर दो रिश्ता सोने वालों को किनारों के हवाले कर दो मेरी तौबा का बजा है यही एजाज़ 'अवि' मेरा साग़र मेरे यारों के हवाले कर दो

Hindi Shayari

इश्क़ की बंदगी दी है तो हुस्न की... Ishq Hindi Shayari

इश्क़ की बंदगी दी है तो हुस्न की इबादत जरूरी है; इश्क़ से जीने की आस रहेगी और हुस्न से तड़प का सकून​।

Topics You May Like

Best Ishq Shayari