हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

दोस्ती इम्तिहान नही विश्वास मांगती है, नज़र और कुछ नही दोस्त का दीदार मांगती है, ज़िंदगी अपने लिए कुछ नही पर आपके लिए, दुआ हज़ार मांगती है

Hindi Shayari

Wohi Raat Ki Khamoshi Aur Tanhai... Alone Hindi Shayari

Wohi Raat Ki Khamoshi Aur Tanhai Yeh Hawa Kisi Ki Yaad Le Aayi, Hum To Baith Kar Uss Chand Ko Dekh Rahe The, Phir Na Jane Kyon Yeh Aankh Bhar Aayi.

Topics You May Like

khamoshi tanhai