हिंदी शायरी

Random Hindi Shayari

अब तो गम सहने की आदत सी हो गयी है, रात को छुप - छुप रोने की आदत सी हो गयी है, तू बेवफा है खेल मेरे दिल से जी भर के हूमें तो अब चोट खाने की आदत सी हो गयी है .

Hindi Shayari

Dushmano Mai Bhi Dost Mila Karte... Sorry Hindi Shayari

Dushmano Mai Bhi Dost Mila Karte Hain, Jan-nato Me Bhi Phool Khila Karte Hain, Humko Kantaa Samajh Kar Chod Na Dena, Kaantey Hi Phool Ki Hifajhat Kiya Karte Hain